Diabetes: Symptoms,Causes,Treatment

Diabetes यह बीमारी में हमारे शरीर में Pancreas द्वारा Insulin secretion कम हो जाने की वजह से होता है।

हमारे शरीर में पाँच महत्वपूर्ण अंग होते हैं :- 1. Brain, 2. Heart, 3. Kidney, 4. Lungs, और 5. Liver होता है।

Liver के पास Pancreas होती है, जो Insulin नामक हार्मोन बनाती है। भोजन पचने के बाद जो ग्लूकोज बनता है उस ग्लूकोज को Insulin पचाता है और खून में इसकी मात्रा को संतुलित रखता है। हमारे Digestive System में Metabolism की यह प्रक्रिया 24 घण्टा चलती रहती है। ग्लूकोस शरीर को ऊर्जा देती है।

यदि Pancreas Insulin बनाना बन्द कर दे तो ग्लूकोज की मात्रा बढ़ने लगती है। जब खून में ग्लूकोज बढ़ने लगती है तो बढ़ी हुई ग्लूकोज मूत्र के साथ बाहर निकलने लगती है। जब ग्लूकोज सीधी मूत्र द्वारा बिना किसी प्रकार के रासायनिक परिवर्तन के निकलने लगती है तो इस रोग को Diabetes कहा जाता है।

दूसरे शब्दों में कहा जा सकता है की खून में ग्लूकोज की मात्रा, Normally 70 से 110mg से अधिक बढ़ जाना Diabetes रोग होना है। जब शरीर कार्बोहाइड्रेट्स द्वारा पैदा की गयी ग्लूकोस को पूरी तरह पचा नहीं पाता तब Diabetes रोग होता है।

Read Also:- Top 13 Causes of Bad Posture

Diabetes के लक्षण

आमतौर पर इस रोग में यह लक्षण पाये जाते है :-

  1. फोड़े-फुन्सी और त्वचा के रोग।
  2. ज्यादा भूख लगना।
  3. बहुत ज्यादा प्यास लगना।
  4. वजन में कमी।
  5. थकान महसूस होना।
  6. अधिक और बार-बार पेशाब होना।
  7. आँखों से कम दिखाई देना।
  8. शरीर में दर्द।
  9. खुजली, विशेष रूप से गुप्तांगो के आसपास।
  10. घाव का देर से भरना।

कभी-कभी रोगी में रोग का एक ही लक्षण मिलता है, जैसे थोड़ा Physical Work करने पर वह थकान महसुस करने लगता है। कभी-कभी तो Diabetes रोगी को महसूस होता है कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है, यह भी Diabetes के लक्षण है।

शुरूआती दौर में Diabetes का सबसे पहले लक्षणों में सबसे पहला है की बहुत अधिक मात्रा में व बार-बार पेशाब आना, अधिक प्यास लगना, भूख अधिक लगना, पूरी खुराक भोजन करने पर भी तेजी से वजन कम होना, थोड़ा-सा काम करने पर शरीर में थकावट महसूस करना, चक्कर आना और चीनी की मात्रा अधिक बढ़ जाने पर बेहोश हो जाना आदि हो सकता है।

Diabetes कभी-कभी रोगी में रोग का एक ही लक्षण मिलता है, जैसे थोड़ा Physical Work करने पर वह थकान महसुस करने लगता है। Diabetes
Diabetes

Diabetes के कारण

Diabetes रोग होने की सबसे बड़ी वजह शरीर में Insulin की कमी होना है। या तो शरीर में Insulin का जरूर से कम बनने के कारण होता है।

कुछ ऐसे कारण है जिसे Diabetes होता है :-

1. परिवार के प्रभाव के कारण

आमतौर Diabetes रोगियों के परिवार के सदस्यों में पाया जाता है। जब माता और पिता दोनों Diabetes के रोगी होते है, तो उनकी बच्चो में रोग के होने की 50% आशंका रहती है। जुड़वाँ बच्चों में यदि एक को यह रोग हो तो दूसरे को भी यह रोग हो जाने की possibility रहती है।

2. मोटापा और भोजन सम्बंधी कारण

अनेक रोगी, विशेष रूप से 40 Age से अधिक आयु वाले, होते है। जो व्यक्ति अधिक मीठे, घी, तेल, Fat जैसे चीजों का सेवन करता है उन्हें यह रोग होने की Possibility रहती हैं। बाहर की चीज खाना, नशा करना, हरदम कुछ न कुछ खाते रहना, ये गलत खाने की आदत भी इस रोग का प्रमुख कारण है।

Read Also:- Top 11 Motapa kam karne ke Upay 

3. रहन-सहन संबन्धी कारण

जो व्यक्ति अधिक आराम दायक स्वभाव के होते है, दिन में भी अधिक सोते है, Exercise, सुबह-शाम, योग नहीं करते, महनत से दूर भागते हैं, ऐसे व्यक्ति इस रोग से जल्दी हो जाता हैं।

4. Mental Stress

Mental Stress, बहुत समय से रहने वाले व्यक्ति में Digestive System में प्रोब्लेम आने लगती है जिससे खाना टिक तरह से नहीं पच पता और अगर लम्बे समय तक Mental Stress में रहते है तो Diabetes होते का खतरा होता है। यही कारण है कि अधिक मानसिक काम करने वाले, उच्च पदाधिकारी Stressful जीवन जीते और High Class वाले लोगो में यह रोग ज्यादा पाया जाता हैं।

5. Pancreas में गड़बड़ के कारण

Diabetes रोग होने का मुख्य कारण पेट के ऊपरी भाग में आमाशय के नीचे व पीछे की ओर स्थित Pancreas से निकलने वाला Insulin है, Insulin की कमी से Diabetes होता है। यह Insulin नामक हार्मोन खून में ग्लूकोज की मात्रा को नियमित रखता है और उसको शरीर की कोशिकाओं में जरूरत के मुताबिक भेजता है। ग्लूकोज से ही शरीर में ऊर्जा उत्पन्न होती है। पर जब किन्ही कारणों से Pancreas में खराबी आ जाये तो Insulin का बनना कम या बंद हो जाता है जिससे ग्लूकोज को खून में ठीक मात्रा से नहीं मिला पाता और Diabetes की शिकायत हो जाती है।

Diabetes रोग होने की सबसे बड़ी वजह शरीर में Insulin की कमी होना है। या तो शरीर में Insulin का जरूर से कम बनने के कारण होता है।

Diabetes का Treatment

आहार पर पूर्ण Control, Physical Hard Work और मोटापे के घटाने से और Insulin व अन्य सही भोजन के नियमित सेवन से रोगियों को बहुत फ़ायदा होता है।

रोगीयों को अपने रोग को समझने का कोशिश करना चाहिए और सावधानी से निरन्तर अपने रोग का Treatment जारी रखना चाहिए।

1. दवाइयाँ

( क ) टेबलेट्स यह Pancreas को सही रूप से काम करने में मदद करती है, जो Insulin का मात्रा को बढ़ाता है। पर अगर हमारे शरीर में Pancreas कमजोर है तो टेबलेट्स का असर नहीं होताहै।

( ख ) Insulin के इंजेक्शन इनका इस्तेमाल तब होता है जब Pancreas Insulin बना नहीं पाता। इनका इस्तेमाल Pancreas को आराम देता है और हो सकता है कि इसकी वजह से भविष्य में Pancreas फिर से Insulin बनाना शुरू कर दें।

( ग ) जाँच खून और मूत्र की मात्रा की जाँच निरन्तर रूप से करना जरूरी है। दूसरी सेहत संबन्धित बाते जैसे Blood Pressure, Weight, आदि भी निरन्तर चेकअप करना जरूरी है। इससे यह पता चलता है कि Diabetes कितना बढ़ा या घटा है।

2. फाइबर आहार का महत्व

Diabetes रोगी को फाइबर युक्त आहार का अधिक सेवन करना चाहिए, क्योकि इसके सेवन से खून में चीनी का स्तर तुरन्त कम हो जाता है। इससे खून में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी कम हो जाती है ,इसके सेवन से पेट भरा सा महसूस होता है और कब्ज भी नहीं होता। सभी तरह के अनाजों, फलों व सब्जियों में फाइबर मौजूद होते है।

3. Diabetes मरीज के लिए Healthy और Unhealthy Foods

Diabetes रोगियों को healthy खाना लेनी चाहिए। उस खुराक में Unhealthy चीज नहीं होनी चाहिए। Diabetes रोगियों को डॉक्टर द्वारा बताई गयी चीजों का ही सेवन करना चाहिए।

( क ) Healthy Foods – घी, मक्खन, पनीर, कद्दू, मूली, पालक, बैगन, मटर, अनार, जामुन, संतरे, नाशपाती, अनानास, करेला, धनिया की चटनी आदि Foods लाभदायक है।

High कार्बोहाइड्रेट्स वाले Foods का सेवन करें। High कार्बोहाइड्रेट्स सेवन से खून में चीनी की मात्रा का अनुपात धीरे-धीरे बढ़ता है, जिससे मरीज को कोई परेशानी नहीं होती है। डॉक्टर का कहना है कि ‘High कार्बोहाइडट्रेट्स’ मरीज के खून में न सिर्फ ‘शुगर के लेबल’ को संतुलित करते है बल्कि इससे और कई खतरों से भी बचाव करता है।

( ख ) Unhealthy Foods चीनी, जेली, गुड़, मिठाई, आइसक्रीम, केक, चॉकलेट या मीठ बिस्किट। तले हुए Foods ( पूरी, पराठा, पकौड़ी, समोसा, तले हुए चिप्स ) मैगी। सूखे मेवे, बादाम, मूँगफली, तिल, खजूर आदि। आलू, शकरकन्द, साबूदाना, सिंघाड़ा, कटहल के बीज, राजमा। केला, गन्ना, नारियल, चीकू, आम, अंगूर। शराब। यह Foods Diabetes में नहीं लेना चाहिए।

4. चीनी का इस्तेमाल कम करें

Diabetes के रोगी को चीनी इस्तेमाल कम करना चाहिए। चीनी एक साधारण कार्बोहाइड्रेट Food हैं, जो जल्दी पचकर खून में पहुँच जाता है। Diabetes के शिकार लोगों को चाहिए की वे अपने Foods में से चीनी, शहद, केक, बिस्कुट, चॉकलेट, जलेबी, रसगुल्ला इन चीजों को हटा दे। इन चीजों के बदले ताजा फलों का सेवन करें, इससे पौष्टिक जैसे विटामिन्स, कार्बोहाइड्रेट्स आदि मिलेंगे।

5. वजन कम करें

Diabetes के रोगी को अपने शारीरिक Weight पर ध्यान देना चाहिए। बूढ़े लोगो में मोटापे की वजह से Diabetes होने का खतरा ज्यादा रहता है। मोटापा Insulin के काम में रुकावट पैदा करता है। Research यह देखा गया है की मोटापा कम होने के बाद मरीजों में ‘Blood Sugar Level’ Control में रहता है। Diabetes के उन मरीजों को अपना Weight घटाना चाहिए, जो की मोटे है।

आहार पर पूर्ण Control, Physical Hard Work और मोटापे के घटाने से और Insulin व अन्य सही भोजन के नियमित सेवन से रोगियों को बहुत फ़ायदा होता है। Diabetes
Diabetes

6. Time-Time पर थोड़ा- थोड़ा खाते रहें।

थोड़ा सा भोजन जल्दी पच जाता है और इसके ग्लूकोज की भी मात्रा कम होती है, जससे खून में शुगर का स्तर अधिक नहीं बढ़ पाता है। ऐसे मरीजों को जो ‘Insulin’ पर निर्भर है,उन्हें दिन में छह बार थोड़ा-थोड़ा मात्रा में भोजन करना चाहिए। जो मरीज ‘Insulin’पे निर्भर नहीं है और केवल दवाइयाँ लेते है, उन्हें दिन में पाँच बार थोड़ा-थोड़ा मात्रा में भोजन करना चाहिए।

Diabetes रोगियों को चाहिए कि वे अपने भोजन का समय निश्चित करें और उसका सही से पालन करें।

7. टहलना

टहलना सबसे अच्छा Exercise है। शुरुआत में सुबह शाम थोड़ा बहुत टहलने की आदत डाले। चलते समय इतना तेज न चलें कि आप हाँफने लग जायें। आराम से चलें और धीरे-धीरे अधिक समय तक चलना शुरू करें। सुबह आधा घंटा और शाम को भी आधा घंटा चलने की आदत डाल ले। इस Exercise से जैसे-जैसे आपकी मांसपेशियों, फेफड़ो और ह्रदय को ताकत मिलेगा, वैसे-वैसे आपके चलने की रफ़्तार अपने आप तेज होगी और इससे और भी बेहतर फायदे हासिल होंगे।

8. Diabetes मरीज चिन्ता से बचें

Research Study के अनुसार पुरे विश्य में Diabetes की बढ़ने का कारण Mental Stress है।

अगर Mental Stress से बचकर रहा जा सकें, जीवन में आये दिन उतार-चढ़ावों से हसते-खेलते निबटते रहने की कला सीखी जा सके, तो Diabetes रोग की आधी समस्या की हल हो सकती हैं।

Read Also:- Stress Management Techniques in Hindi

Diabetes मरीज डॉक्टर के सम्पर्क में रहें

बिना डॉक्टर की सलाह के कोई नहीं Medicine न ले। आप किसी ऐसे डॉक्टर का चुनाव अपने लिए करें, जो अपनी मरीजों को समय दे सके, उनकी मुसीबतों को ध्यान से सुन सके।

Diabetes को Control में लाने के लिए आप जिन दवाइयों को ले रहे है, उनके ‘Side Effect’ के बारे में अपने डॉक्टर से जरूर बातें करें।

Diabetes को Control में लाने के लिए आप जिन दवाइयों को ले रहे है, उनके 'Side Effect' के बारे में अपने डॉक्टर से जरूर बातें करें।

Read Also:- medlineplus Diabetes Information IN ENGLISH

Leave a Reply

Close Menu
0 Shares
Share via
Copy link